June 18, 2024

हिन्दी

हिन्दी

सुबह की स्तुति भेंट

प्यारे प्रभु, मुझे नहीं पता है कि आज मेरे साथ क्या कुछ घटित होगा। मैं केवल इतना जानता हूँ कि ऐसा कुछ भी मेरे नहीं होगा जो आपके द्वारा पहले से नहीं देख लिया गया है और जो शाश्‍वतकाल से मेरी सर्वोत्तम भलाई के लिए निर्देशित न किया गया हो। मैं आपके पवित्र और अथाह… Continue reading सुबह की स्तुति भेंट

प्रेम की विनती

हे मेरे ईश्वर, मैं तुझको सारे दिल और मन से, और सब कुछ से अधिक प्यार करता हूँ। इसलिए कि तू असीम भला और दयालु है। और मैं अपने पड़ोसियों को तेरे प्रेम के लिए अपने समान प्यार करता हूँ इस प्रेम में मैं जीना और मरना चाहता हूँ। आमीन।  

असीसी के सन्त फ़्रांसिस की प्रार्थना

हे प्रभु, मुझे अपनी शांति का एक साधन बना ले; जहाँ घृणा हो, वहाँ प्रेम; जहाँ चोट हो, वहाँ क्षमा; जहाँ संदेह हो, वहाँ विश्वास; जहाँ निराशा हो, वहाँ आशा; जहाँ अंधकार हो, वहाँ प्रकाश और जहाँ विषाद हो, वहाँ आनन्द तथा दिलासा लाऊँ। हे दिव्य गुरू, मुझे यह वर दे कि मैं सान्त्वना खोजने… Continue reading असीसी के सन्त फ़्रांसिस की प्रार्थना